कांग्रेस ने कोरोना से जान गंवाने वालों के परिवार को 10 लाख की मदद देने की मांग की, राहुल गांधी बोले- ये उनकी ज़रूरत है, अधिकार है

Sep 21, 2022 Off By Frost

नईदिल्ली:कांग्रेसकेपूर्वअध्यक्षऔरसांसदराहुलगांधीनेसोमवारकोट्वीटकरकेकहाकिपेट्रोलडीज़लसेजोटैक्सवसूलीकीजारहीहै,उससेकोरोनापीड़ितपरिवारोंकोहर्जानादियाजासकताहै.उन्होंनेकहाकियेउनकीज़रूरतऔरअधिकारहै.राहुलनेकेंद्रसेकहाकिआपदामेंजनसहायताकेइसअवसरसेमोदीसरकारकोपीछेनहींहटनाचाहिए.

राहुलगांधीनेट्वीटकिया,"पेट्रोल-डीज़लटैक्सवसूलीकेछोटेसेहिस्सेसेकोविडपीड़ितपरिवारोंकोहर्जानादियाजासकताहै-येउनकीज़रूरतहै,अधिकारहै.आपदामेंजनसहायताकेइसअवसरसेमोदीसरकारकोपीछेनहींहटनाचाहिए."

इससेपहलेकांग्रेसप्रवक्तागौरववल्लभनेकहा,‘‘राहुलगांधीजीनेमांगकीथीकिकोविडमुआवजाकोषस्थापितकियाजाए.हमारीमांगहैकितत्कालकोविडमुआवजाकोषस्थापितकियाजाएऔरहरमृतककेपरिवारकोइसमेंसे10लाखरुपयेकीमदददीजाए.’’

कांग्रेसनेकी10लाखरुपयेदेनेकीमांग

दरअसलकांग्रेसनेकोविडकेकारणजानगंवानेवालेपरिवारोंकोअनुग्रहराशिकीमांगकेसंदर्भमेंकेंद्रसरकारकीओरसेसुप्रीमकोर्टमेंदायरहलफनामेकोकोरोनापीड़ितोंऔर‘कोरोनायोद्धाओं’काअपमानकरारदिया.कांग्रेसनेकहाकिइसमहामारीमेंअपनेप्रियजनकोखोनेवालेहरपरिवारको10लाखरुपयेकीमददप्रदानकीजानीचाहिए.

गौरववल्लभनेयहदावाभीकियाकिपिछलेवित्तवर्षमेंसरकारनेपेट्रोलएवंडीजलपरउत्पादशुल्ककेजरिएकरीबचारलाखकरोड़रुपयेकी‘लूट’कीहैऔरइसराशिका10फीसदीखर्चकरकेकोविडप्रभावितपरिवारोंकीमददकीजासकतीहै.

उन्होंने कहा,‘‘पिछले16महीनोंमेंदेशकाहरनागरिककोरोनामहामारीसेप्रत्यक्षअथवापरोक्षरूपसेप्रभावितहुआहै।लेकिनसरकारकिसीकोसुननेकोतैयारनहींहै।उच्चतमन्यायालयमेंइससरकारनेजोहलफनामादायरकियाहै,उससेलगताहैकिउसेदेशकेनागरिकोंकीकोईचिंतानहींहै.’’

वल्लभनेआरोपलगाया,‘‘सरकारनेइसमेंऐसीबातेंकीहैंजोकोविडसेमारेगएलोगोंकाएवंकोरोनायोद्धाओंकाअपमानहैऔरइसनेकोविडकेखिलाफहमारीलड़ाईकोकमजोरकियाहै.’’

उन्होंनेकहा,‘‘साल2020-21मेंकरीबचारलाखकरोड़रुपयेपेट्रोल-डीजलपरउत्पादशुल्ककेरूपमेंलूटलिए.क्याहमकोरोनाकेकारणजानगंवानेवालोंकेलिएइनचारलाखकरोड़रुपयेकामात्र10फीसदी(40हजारकरोड़रुपये)खर्चनहींकरसकते?’’

कोर्टमेंकेंद्रनेदियाहैयेजवाब

गौरतलबहैकिकेंद्रनेसुप्रीमकोर्टकोबतायाहैकिउसकेसाथ'राजकोषीयसामर्थ्य'काकोईमुद्दानहींहै,लेकिन'राष्ट्रकेसंसाधनोंकातर्कसंगत,विवेकपूर्णऔरसर्वोत्तमउपयोग'करनेकेमद्देनजरकोविडकेकारणजानगंवानेवालोंकेपरिवारोंकोचारलाखरुपयेकीअनुग्रहराशिप्रदाननहींकीजासकती.

केंद्रनेशीर्षअदालतकेनिर्देशानुसारअतिरिक्तहलफनामादाखिलकियाहै.सुप्रीमकोर्टने21जूनकोउनदोजनहितयाचिकाओंपरअपनाफैसलासुरक्षितरखलियाथा,जिसमेंकेंद्रऔरराज्योंकोकोरोनावायरससेजानगंवानेवालेलोगोंकेपरिवारोंकोकानूनकेतहतचार-चारलाखरुपयेमुआवजादेनेऔरमृत्युप्रमाणपत्रजारीकरनेकेलिएएकसमाननीतिकाअनुरोधकियागयाथा.

केंद्रनेकहाकिराष्ट्रीयस्तरपर12विशिष्टचिन्हितआपदाओंकोलेकरवर्ष2015से2020केदौरानप्रस्तावितखर्चकेदिशा-निर्देशोंमेंकोविड-19शामिलनहींहै.इनआपदाओंमेंचक्रवात,सूखा,भूकंप,आग,बाढ़,सूनामी,ओलावृष्टि,भूस्खलन,हिमस्खलन,बादलफटना,कीट-हमला,पालाऔरशीतलहरशामिलहै.

ट्विटरनेभारतकेनक्शेकेसाथछेड़छाड़की,J&K-लद्दाखकोअलगदेशदिखाया,सरकारलेसकतीहैबड़ाएक्शन