खाद के क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाएगा नैनो यूरिया : देवेंद्र

Jun 12, 2022 Off By Gardiner

जागरणसंवाददाता,रोहतक:सहकारीसमितियांकेसहायकरजिस्ट्रारदेवेंद्रबैनिवालनेकहाहैकिनैनोयूरियाखादकेक्षेत्रमेंभारतकोआत्मनिर्भरबनानेकाकामकरेगा।बैनिवालमंगलवारकोमहर्षिदयानंदविश्वविद्यालयकेफैकल्टीहाउसमेंआयोजितक्षेत्रीयसहकारीसम्मेलनमेंबतौरमुख्यअतिथिउपस्थितअधिकारियोंकोसंबोधितकररहेथे।

उन्होंनेकहाकिनैनोयूरियाकेप्रयोगसेफसलोंकीपैदावारबढ़तीहैऔरपोषकतत्वोंकीगुणवत्तामेंभीकाफीसुधारआताहै।इसकेसाथहीउन्होंनेयहभीकहाकिनैनोयूरियाभूमिगतजलकीगुणवत्ताकोसुधारनेतथाजलवायुपरिवर्तनवटिकाऊउत्पादनपरसकारात्मकप्रभावडालतेहुएग्लोबलवार्मिंगकोकमकरनेमेंभीअहमभूमिकानिभारहाहै।

बैनिवालनेकहाकियूरियातरलकेप्रयोगसेपौधोंकोसंतुलितमात्रामेंपोषकतत्वप्राप्तहोंगेऔरमिट्टीमेंयूरियाकेअधिकप्रयोगमेंकमीआएगी।यूरियाकेअधिकप्रयोगसेपर्यावरणप्रदूषितहोताहै।मृदास्वास्थ्यकोनुकसानपहुंचताहै।पौधोंमेंबीमारीऔरकीटकाखतराअधिकबढ़जाताहै।फसलदेरसेपकतीहैऔरउत्पादनकमहोताहै।साथहीफसलकीगुणवत्तामेंभीकमीआतीहै।नैनोयूरियातरलफसलोंकोमजबूतऔरस्वस्थबनाताहैतथाफसलोंकोगिरनेसेबचाताहै।उन्होंनेकहाकिइफकोनैनोयूरियाकिसानोंकेलिएसस्ताहैऔरयहकिसानोंकीआयबढ़ानेमेंप्रभावकारीहोगा।इफकोनैनोयूरियातरलकी500मिलीलीटरकीएकबोतलसामान्ययूरियाकेकमसेकमएकबैगकेबराबरहोगी।इसकेप्रयोगसेकिसानोंकीलागतकमहोगी।नैनोयूरियातरलकाआकारछोटाहोनेकेकारणइसेपाकेटमेंभीरखाजासकताहैजिससेपरिवहनऔरभंडारणलागतमेंभीकाफीकमीआएगी।

मंडलस्तरसेपहुंचेकृषिअधिकारी

क्षेत्रीयसहकारीसम्मेलनमेंरोहतककेअलावासोनीपत,जींद,भिवानीवझज्जरजिलोंकेकृषिएवंकल्याणविभाग,सहकारिताविभाग,कृषिविज्ञानकेंद्रतथाजिलासहकारीबैंककेअधिकारियोंऔरकर्मचारियोंनेभागलिया।इसअवसरपरइफकोहरियाणाकेडीजीएमओंकारसिंह,सुनीताढाका,डा.मीनाक्षीसांगवान,क्वालिटीकंट्रोलअधिकारीझज्जरजसबीरसिंह,क्वालिटीकंट्रोलअधिकारीराकेशजांगड़ा,इफकोसोनीपतकेक्षेत्रप्रबंधकअशोककुमारवइफकोकेफील्डआफिसरकुलदीपसिंहआदिउपस्थितरहे।