नप सभापति की गई कुर्सी, अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में पड़े 17 मत

Sep 21, 2022 Off By French

संवादसहयोगी,लखीसराय:नगरपरिषदलखीसरायकेसभापतिअरविदपासवानकेविरुद्धलाएगएअविश्वासप्रस्तावकोलेकरलगरहीकयासोंपरशनिवारकोविरामलगगया।नगरपरिषदसभागारमेंहुईविशेषबैठकमेंसभापतिअरविदपासवानकेविरुद्धअविश्वासप्रस्तावपारितहोगयाऔरउनकीकुर्सीचलीगई।करीबसाढ़ेचारवर्षबादनगरपरिषदकीराजनीतिमेंबड़ाबदलावआयाहै।जिलेकीराजनीतिसेइनदिनोंनेपथ्यमेंचलरहेपूर्वपार्षदरासपतिपांडेय,उपसभापतिसुनीलकुमारद्वारामोर्चासंभाललेनेकेबादइसकीपूरीसंभावनापहलेसेहीथीकिअरविदपासवानअपनीकुर्सीनहींबचापाएंगे।प्रभारीएडीएमसंजीवकुमारकीनिगरानीमेंनपसभागारमेंविशेषबैठकहुई।बैठकमेंनगरपरिषदकेकार्यपालकपदाधिकारीआशुतोषआनंदचौधरीएवंदंडाधिकारीकेरूपमेंहलसीकेसीओविवेककुमारमौजूदथे।बैठककेदौरानलखीसरायथानाध्यक्षराकेशकुमार,एसआइरंजीतरंजनकेसाथमहिला-पुरुषपुलिसबलमौजूदरहे।बैठककीपूरीप्रक्रियाकीवीडियोग्राफीकराईगई।विशेषबैठकमेंनगरपरिषदकेसभापतिअरविदपासवान,उपसभापतिसुनीलकुमारसहितकुल18पार्षदउपस्थितहुए।जबकि15वार्डपार्षदबैठकमेंशामिलनहींहुए।जानकारीहोकिनगरपरिषदकीबदहालीऔरव्याप्तकुव्यवस्थासेनाराजपार्षदोंनेसभापतिपरकईतरहकेगंभीरआरोपलगाएथे।विशेषबैठककीकार्यवाहीजैसेहीशुरूहुईसबसेपहलेसभापतिकेविरुद्धलाएगएअविश्वासप्रस्तावपरचर्चाकीगई।चर्चाकेबादमतदानकीप्रक्रियाअपनाईगई।सभापतिकोकुर्सीसेहटानेकेलिएजादुईआंकड़ा17थाजोवहांपहलेसेमुस्तैदीसेमौजूदथे।प्रभारीएडीएमसंजीवकुमारनेबतायाकिसभापतिअरविदपासवानकेविरुद्धलाएगएअविश्वासप्रस्तावकेपक्षमेंकुल17मतपड़ेजिसकेकारणअविश्वासप्रस्तावपारितहोगया।विरोधमेंएकमात्रसभापतिनेमतडाला।सभापतिकीकुर्सीसेअरविदकेहटतेहीअविश्वासप्रस्तावकेसमर्थनमेंरहेवार्डपार्षदोंनेखुशीकाइजहारकिया।----

उपसभापतिसहित17पार्षदोंनेपक्षमेंकियामतदान

सभापतिअरविदपासवानकेविरुद्धअविश्वासप्रस्तावकीविशेषबैठकमेंमतदानप्रक्रियामें17काजादुईआंकड़ापूराकरनेमेंउपसभापतिसुनीलकुमारकेसाथवार्डएककिपार्षदपार्षदसुधादेवी,वार्डचारकीनीलूकुमारी,वार्डछहकीशालिनीकुमारी,वार्डआठकीनीलमदेवी,वार्डनौकीमंजूदेवी,वार्ड10कीशशिदेवीपांडेय,वार्ड16केगौतमकुमार,वार्ड17कीउरप्रमिलादेवी,वार्ड21केअमरजीतप्रजापति,वार्ड24कीमालादेवी,वार्ड25कीआरतीदेवी,वार्ड26कीकवितादेवी,वार्ड27कीशीलावर्मा,वार्ड30केप्रकाशमहतो,वार्ड31केहीराकुमारसाव,वार्ड33कीमंजूदेवीनेपक्षमेंमतदानकरसभापतिकोकुर्सीसेबेदखलकरदिया।नएसभापतिकाचुनावबादमेंहोगा।वैसेफिलहालसुधादेवीकानामइसपदकेलिएआगेचलरहाहै।